25000 girl students will get admission in new campus of Indira Gandhi Technical University

इंदिरा गांधी दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी फॉर वुमेन (आईजीडीटीयूडब्ल्यू) का नया कैंपस नरेला में 50 एकड़ में बनकर



इंदिरा गांधी दिल्ली टेक्निकल यूनिवर्सिटी फॉर वुमेन (आईजीडीटीयूडब्ल्यू) का नया कैंपस नरेला में 50 एकड़ में बनकर तैयार हो जाएगा। इस कैंपस में करीब 25 हजार छात्राओं को दाखिला मिल सकेगा। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने गुरुवार को विश्वविद्यालय के चौथे दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी।
 
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि देश के विकास में शोध की अहम भूमिका होती है। विश्वविद्यालय अपना ध्यान रिसर्च पर बढ़ाए सरकार हर प्रकार से सहयोग करेगी। उन्होंने विद्यार्थियों का आह्वान करते हुए कहा कि आम आदमी के जीवन को आसान बनाने वाली चीजों पर फोकस करते हुए रिसर्च कीजिए। सिसोदिया ने कहा कि हमारा प्रयास है कि दिल्ली के हर बच्चे को अच्छी शिक्षा मिले। इस तरह के उच्च संस्थान में सीटों की संख्या बढ़ाने में सरकार हर कदम पर आपके साथ खड़ी है। हम बजट की कमी नहीं होने देंगे। देश में दिल्ली इकलौता ऐसा राज्य है जहां केजरीवाल सरकार अपने बजट का 25 फीसदी खर्च शिक्षा के क्षेत्र पर करती है। 
 

उन्होंने कहा कि आईजीडीटीयूडब्ल्यू ने दिल्ली सरकार के ईएमसी करिकुलम, हैप्पीनेस करिकुलम सहित अनेक कार्यक्रमों में सहयोगी की तरह भूमिका निभाई है। अब वक्त है कि विश्वविद्यालय अपने यहां के छात्रों को इस तरह प्रशिक्षित करे कि वह नौकरी पाने की बजाय नौकरी देने वाला बनें। 

इस दीक्षांत समारोह में लगभग 368 स्नातक, 131 स्नातकोत्तर और 13 डॉक्टरेट को उनकी डिग्री प्रदान की गई। दीक्षांत समारोह में शैक्षणिक वर्ष 2020-2021 के स्नातक उपस्थित थे। इस अवसर पर विभिन्न पाठ्यक्रमों के सभी टॉपर्स को दो चांसलर गोल्ड मेडल, चौदह वाइस चांसलर गोल्ड मेडल और सालों भर अनुकरणीय प्रदर्शन करने वाले चौदह छात्रों को  सिल्वर प्लाक दिया गया। जिन छात्रों को डिग्री प्रदान की गई वह पहले से ही देश भर के विभिन्न कॉर्पोरेट और सामाजिक क्षेत्र के संगठनों के साथ काम कर रहे हैं, जिन्होंने अपना कोर्स पूरा कर लिया है।


Bhuvan Web

13704 Blog posts

Comments